तलाक लेने की तीसरी सबसे बड़ी वजह हैं खर्राटे, कहीं आप भी तो नहीं अपने पार्टनर की इस आदत से परेशान?

तलाक लेने की तीसरी सबसे बड़ी वजह हैं खर्राटे, कहीं आप भी तो नहीं अपने पार्टनर की इस आदत से परेशान?
Spread the love

<p>आज-कल खर्राटे आना आम बात हो गई है, लेकिन क्या आप सोच सकते हैं यह आम बात एक दिन बहुत बड़ी मुसीबत भी बन सकती है. अक्सर आपने देखा होगा आपके घर में या आप जब सफर करते होंगे ट्रेन में तो बहुत से लोग करते लेते हैं जो सोता है उन्हें तो समझ में नहीं आता, लेकिन जिनकी नींद बहुत ही सेंसिटिव होती है वह दूसरों के कारण सो नहीं पाते. आज हम आपको बताएंगे कि खर्राटे तलाक लेने की तीसरी सबसे बड़ी वजह बन गई है आईए जानते हैं विस्तार से.</p>
<p>अमेरिकन एकेडेमी ऑफ स्लीप मेडिसिन के एक रिपोर्ट में ये चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए हैं. MSD मैनुअल्स की रिपोर्ट के अनुसार दुनियाभर में लगभग 57% पुरुष और 40% महिलाएँ खर्राटे लेते हैं. अगर भारत की बात करें तो लगभग 43% लोग कभी-कभी खर्राटे लेते हैं और 20% लोग नियमित रूप से खर्राटे लेते हैं. वहीं पूरी दुनिया में बहुत बड़ी आबादी खर्राटे की समस्या से परेशान है. उच्च तलाक दर वाले पश्चिमी देशों में रिश्तों के टूटने का कारण भी यह है. भारत में तलाक दर कम है, लेकिन खर्राटे की वजह से यहां भी रिश्ते गलत दिशा में जा रहे हैं. तलाक के बजाय कपल का अलग-अलग कमरों में सोना हो रहा है और स्पष्ट रूप से यह सेक्स जीवन पर प्रभाव डाल रहा है.</p>
<h3>क्या है स्लीप डिवोर्स&nbsp;</h3>
<p>दुनिया भर में केवल 20% जोड़े हैं जिनमें से कोई भी साथी खर्राटे नहीं लेता और उनका संबंध खर्राटों के खतरों से दूर है. बाकी 80% जोड़े इस समस्या का सामना कर रहे हैं. इसी वजह से खर्राटे दुनिया भर में रिश्तों के लिए एक बड़ी चुनौती के रूप में सामने आई है. एक रिपोर्ट दिखाती है कि 25 से 40% विवाहित जोड़े खर्राटे जैसे कारणों से नियमित आधार पर अलग-अलग सोना पसंद करते हैं. जिसके कारण उनमें इमोशनल और फिजिकल अटैचमेंट की कमी होती है. इसका परिणाम होता है कि रिश्ता टूटने की कगार पर पहुँच जाता है. इस स्थिति को स्लीप डिवोर्स कहा जाता है, &nbsp;जिसमें साथी पूरी तरह से अलग नहीं होते, लेकिन रिश्ते के बावजूद उनका संबंध काफी कम होता है.</p>
<h3>पार्टनर लेतें हैं खर्राटे तो अपनाएं ये तरीका</h3>
<ul>
<li>अपने पार्टनर की सोने की पोजिशन बदलें.</li>
<li>लाइफस्टाइल में परिवर्तन के लिए प्रोत्साहित करें.</li>
<li>एक खर्राटे डिवाइस का तोहफा दें.</li>
<li>सूखा मुंह बढ़ते खर्राटे का कारण होता है. अपने साथी को पानी पिलाएं.</li>
<li>अलग कमरों में सोने के बजाय इयरप्लग का उपयोग करें.</li>
<li>अपने साथी को खर्राटे लेने के लिए दोषी न मानें. वह यह जानबूझकर नहीं करता.</li>
<li>चिकित्सा सलाह लें. खर्राटे एक गंभीर स्वास्थ्य समस्या भी हो सकती है.</li>
</ul>
<p><strong>ये भी पढ़ें : <a title="Relationship tips: प्यार में जब महसूस होने लगे कमी समझ ले आ गईं है रिचार्ज करने की नौबत, वरना बढ़ सकती है दूरियां" href="https://www.abplive.com/photo-gallery/lifestyle/relationship-feeling-lack-in-love-you-understand-that-it-is-time-to-recharge-otherwise-the-distance-may-increase-2655194" target="_self">Relationship tips: प्यार में जब महसूस होने लगे कमी समझ ले आ गईं है रिचार्ज करने की नौबत, वरना बढ़ सकती है दूरियां</a></strong></p>

#तलक #लन #क #तसर #सबस #बड #वजह #ह #खररट #कह #आप #भ #त #नह #अपन #परटनर #क #इस #आदत #स #परशन


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *