बच्चा पैदा करने से कहीं डर तो नहीं रहीं आप, जानें कितनी सामान्य है ये घबराहट, क्या होता है असर

बच्चा पैदा करने से कहीं डर तो नहीं रहीं आप, जानें कितनी सामान्य है ये घबराहट, क्या होता है असर
Spread the love

Tokophobia: मां बनना हर महिला का सपना होता है. इसके लिए वे न जाने कितने ख्वाब बुनती है. इसकी पहले से तैयारियां करती हैं लेकिन यह भी सच है कि प्रेगनेंसी के दौरान उनके शरीर में कई बदलाव आते हैं. कई केस में ये बदलाव कॉम्प्लिकेटेड भी हो जाते हैं. इसका साफ मतलब है कि मां बनना आसान काम नहीं है. ऐसे में कई महिलाओं के साथ ऐसा होता है कि जब वे किसी महिला की प्रेगनेंसी और डिलीवरी होते हैं तो उनके मन में प्रेगनेंसी को लेकर डर बैठ जाता है. उन्हें लगता है कि प्रेगनेंसी दर्दनाक होती है. इसलिए वे प्रेग्नेंट होने से बचने लगती हैं. यह डर सामान्य बिल्कुल भी नहीं होता है. इसे टोकोफोबिया कहा जाता है, जो एक तरह की बीमारी होती है. रिपोर्ट के मुताबिक, करीब 7 परसेंट महिलाएं आज टोकोफोबिया की शिकार हैं. आइए जानते हैं इस डर और बीमारी के बारें में सबकुछ…

 

कब लगता है ये डर

टोकोफोबिया की शिकार महिलाएं जब किसी दूसरी महिला की डिलीवरी देखती हैं तो उनके मन में दर्द को लेकर डर बैठ जाती है. यह इस कदर उन पर हावी हो जाती हैं कि मां बनने के नाम से भी खौफ खाती हैं. हर समय उन्हें प्रेगनेंसी का दर्द ही नजर आता है. इससे उनकी लाइफ प्रभावित होती है.

 

टोकोफोबिया का कारण

1. प्रेगनेंसी को लेकर बुरे अनुभव सुनना.

2. डिलीवरी के दौरान डॉक्टर द्वारा प्राइवेट पार्ट को टच करने का डर.

3. पेनफुल प्रेगनेंसी के बारें में सुनना.

4. लाइफस्टाइल में आने वाले बदलाव और उन्हें मैनेज करने का खौफ.

5. डिलीवरी के दौरान कुछ केस में मां की दर्दनाक मौत जैसी खबर सुनकर.

 

टोकोफोबिया के लक्षण 

प्रेगनेंट न हो जाए, इस वजह से फिजिकल होने से बचान.

प्रेगनेंट होने पर उसे छुपाने की कोशिश करना.

प्रेगनेंसी की सोचकर दुखी हो जाना

अजन्मे बच्चे से किसी तरह का लगाव न होना.

अपनों से दूर-दूर रहने की आदत

 

टोकोफोबिया का इलाज

1. मूड कंट्रोल करने वाली दवाईयां एंटीडिप्रेसेंट्स जिम्मेदार ब्रेन केमिकल्स को संतुलित करती हैं. इससे तनाव कम होता है.

2. हाईपोथेरपी में डॉक्टर पीड़ित को स्ट्रेस से बाहर निकालने डीप रिलैक्स करवाने का प्रयास करते हैं. इससे सोचने का तरीका धीरे-धीरे बदल जाता है.

3. योग, मेडिटेशन और दूसरी रिलैक्स करने वाली थेरेपी, जो मन और दिमाग को शांत करें.

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों और सुझाव पर अमल करने से पहले डॉक्टर या संबंधित एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें.

 

ये भी पढ़ें

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator

#बचच #पद #करन #स #कह #डर #त #नह #रह #आप #जन #कतन #समनय #ह #य #घबरहट #कय #हत #ह #असर


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *