Gujarat Assembly Budget Session Education Minister Kuber Dindor admitted 1606 Primary Schools Running With Just One Teacher 

Gujarat Assembly Budget Session Education Minister Kuber Dindor admitted 1606 Primary Schools Running With Just One Teacher 
Spread the love

Gujarat Assembly Budget Session: गुजरात के सरकारी प्राथम‍िक व‍िद्यालयों में श‍िक्षकों की भारी कमी है. खुद सरकार ने माना है क‍ि राज्‍य के 32000 से ज्‍यादा प्राइमरी स्‍कूलों में से 1606 व‍िद्यालयों में मात्र एक ही टीचर है. इस बारे में राज्‍य के श‍िक्षा मंत्री कुबेर डिंडोर ने गुजरात व‍िधानसभा के बजट सत्र के दौरान सदन को जानकारी दी. 

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताब‍िक, सदन में प्रश्‍नकाल पर चर्चा के दौरान कांग्रेस व‍िधायक तुषार चौधरी के एक सवाल के जवाब में श‍िक्षा मंत्री डिंडोर ने बताया क‍ि पिछले दो सालों में शिक्षकों की कमी का सामना करने वाले स्कूलों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. इसकी एक बड़ी वजह टीचर्स को उनकी पसंद की जगह पर ट्रांसफर क‍िए जाने की ड‍िमांड रही है.  

‘खाली पड़े पदों को जल्‍द भरने का काम होगा’ 

मंत्री ड‍िंडोर ने सदन को आश्‍वस्‍त क‍िया क‍ि राज्‍य सरकार की ओर से संचाल‍ित क‍िए जाने वाले सभी स्‍कूलों में खाली पड़े पदों को जल्‍द से जल्‍द भरने का काम क‍िया जाएगा. मंत्री के इस वक्‍तव्‍य पर कांग्रेस सदस्‍यों ने कड़ी आपत्त‍ि जताई. कांग्रेस व‍िधायकों ने बीजेपी सरकार से खाली पड़े पदों की भर्ती को लेकर एक डेडलाइन तय करने की मांग की. कांग्रेस विधायक के एक सवाल का जवाब देते हुए मंत्री ने आंकडे़ पेश करते हुए कहा कि एक टीचर के साथ चल रहे स्‍कूलों की संख्‍या दिसंबर 2023 तक 1,606 र‍िकॉर्ड की गई है.   

‘छात्रों की परेशानी दूर करने को सरकार ने उठाए कई कदम’  

मंत्री ने व‍िपक्ष को आश्‍वस्‍त करते हुए यह भी कहा क‍ि शिक्षकों की कमी की वजह से छात्रों को परेशानी नहीं उठानी पड़े, इसको लेकर भी कई कदम उठाए जा रहे हैं. इन उपायों में खासकर ज्ञानसहायकों या कॉन्‍ट्रेक्‍ट बेस‍िस प्राइमरी टीचर्स की न‍ियुक्‍त‍ि और टीचर ट्रांसफर कैंपों का आयोजन करना आद‍ि प्रमुख रूप से शाम‍िल हैं.  

कांग्रेस का दावा- दो सालों में ऐसे स्‍कूलों की संख्‍या हुई डबल से ज्‍यादा 

कांग्रेस व‍िधायक शैलेश परमार ने कहा क‍ि राज्य सरकार की ओर से पहले भी सदन में इस तरह के आश्‍वासन द‍िए जा चुके हैं. प‍िछले दो सालों में एक श‍िक्षक के साथ चलने वाले स्‍कूलों की संख्‍या में तेजी के साथ बढ़ोतरी हुई है. सरकार ने मार्च 2022 में सदन को अवगत कराया था क‍ि इस तरह के स्‍कूलों की संख्‍या राज्‍य में 700 है, लेक‍िन हैरान करने वाली बात यह है क‍ि आज दो सालों के भीतर इनकी संख्‍या डबल से भी कहीं अध‍िक हो गई है.  

खाली पदों को भरने की योजना बताए बीजेपी सरकार 

परमार ने सदन में दावा क‍िया क‍ि रिकॉर्ड के मुताब‍िक, गुजरात में 19,000 से अधिक श‍िक्षकों के पद खाली पड़े हैं. सरकार सदन को अवगत कराए क‍ि इस मुद्दे के समाधान के ल‍िए सरकार ने क‍िस तरह की योजना तैयार की है? कांग्रेसी विधायक किरीट पटेल, गेनीबेन ठाकोर ने भी इस मामले पर सदन में नाराजगी जताई और सरकार से खाली पड़े पदों की भर्ती के ल‍िए डेडलाइन बताने की मांग की.

यह भी पढ़ें: मोदी सरकार ने किसानों से किए 3 वादे तोड़े, अब हम एक वादा करते हैं- चुनावों से पहले कांग्रेस चीफ का बड़ा ऐलान

#Gujarat #Assembly #Budget #Session #Education #Minister #Kuber #Dindor #admitted #Primary #Schools #Running #Teacher


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *