Karnataka School Teacher comment on PM Narendra Modi and Lord Ram dismissed

Karnataka School Teacher comment on PM Narendra Modi and Lord Ram dismissed
Spread the love

Karnataka School Teacher Dismissed: कर्नाटक में एक स्कूल की शिक्षिका ने सातवीं क्लास के बच्चों को पढ़ाने के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भगवान राम को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी. अब कर्नाटक पुलिस ने उसके खिलाफ प्राथमिकी (FIR) दर्ज की है और स्कूल प्रबंधन ने भी उसे बर्खास्त कर दिया है. 

घटना कर्नाटक के मंगलुरु की है. सेंट गेरोसा इंग्लिश हायर प्राइमरी स्कूल में पढ़ाने वाली सिस्टर प्रभा 8 फरवरी को कक्षा 7 के छात्रों को “काम ही पूजा है” विषय पर पढ़ा रही थीं. उसी समय उन्होंने कथित तौर पर भगवान राम और पीएम नरेंद्र मोदी के लिए आपत्तिजनक बात कही थी.

शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई के लिए हुए थे प्रदर्शन
कुछ छात्रों ने अपने माता-पिता को इस बारे में जानकारी दी थी, जिसके बाद अभिभावकों और हिंदूवादी संगठनों ने शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर विरोध प्रदर्शन किया. शरथ कुमार नाम के एक अभिभावक ने मैंगलोर दक्षिण पुलिस स्टेशन में स्कूल शिक्षिका के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है.

ब्लॉक शिक्षा अधिकारी ने भी मामले जांच शुरू कर दी है. इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर भी बहस छिड़ गई थी और लोगों ने ऐसी टिप्पणी करने वाली शिक्षिका के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी. स्कूल प्रबंधन पर भी अभिभावक वर्ग का दबाव था, जिसके बाद कार्रवाई की गई है.

स्कूल ने क्या कहा?
सोमवार (12 फरवरी) को स्कूल अधिकारियों ने एक बयान में कहा कि उन्होंने सिस्टर प्रभा को बर्खास्त कर दिया है और उनके पद पर किसी अन्य शिक्षक को नियुक्त किया जाएगा. एक बयान में स्कूल की प्रधानाध्यापिका ने कहा, “सेंट गेरोसा स्कूल का इतिहास 60 साल पुराना है और इसके इतिहास में कभी भी ऐसी घटना नहीं हुई है. हम संविधान के अनुयायी रहे हैं और सभी धर्मों की आस्था और प्रथाओं को भी स्वीकार करते हैं. प्रधानाध्यापिका ने लोगों से अपील की है कि स्कूल के साथ मिलकर बेहतर शिक्षण में सहयोगी बनें.

 ये भी पढ़ें: 2019 के बाद मुस्लिम वोटर्स ने बदला है पैटर्न, भाजपा की पसमंदा नीति बनी वजह, ये आंकड़े चौंकाने वाले

#Karnataka #School #Teacher #comment #Narendra #Modi #Lord #Ram #dismissed


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *