No Relief From High Tur Urad Moong Masoor Dal Prices Pulses Price Inflation Shoots Up To 19.54 Percent In January 2024

No Relief From High Tur Urad Moong Masoor Dal Prices Pulses Price Inflation Shoots Up To 19.54 Percent In January 2024
Spread the love

Pulses Price Inflation: 12 फरवरी 2024 को सरकार ने खुदरा महंगाई दर के आंकड़े जारी किए और इन आंकड़ों के तह में जाएं तो भले ही खुदरा महंगाई दर जनवरी 2024 में घटकर 5.10 फीसदी पर आ गई हो लेकिन दालों की महंगाई दर 20 फीसदी के करीब है. सांख्यिकी मंत्रालय ने जो डेटा जारी किया है उसके मुताबिक जनवरी 2024 में दालों और इससे जुड़े प्रोडक्ट्स की महंगाई दर 19.54 फीसदी रही है जबकि जनवरी 2023 में दालों की महंगाई दर 4.27 फीसदी रही थी.

35.52% महंगी हुई अरहर दाल!

सरकार के डिपार्टमेंट ऑफ कंज्यूमर अफेयर्स के प्राइस मॉनिटरिंग डिविजन के डेटा के मुताबिक 12 फरवरी 2024 को अरहर दाल की औसत कीमत 149.27 रुपये प्रति किलो रही है जो एक साल पहले 12 फरवरी 2023 को  110.14 रुपये प्रति किलो हुआ करती थी. एक साल में अरहर दाल की औसत कीमत में 35.52 फीसदी का उछाल आ चुका है. उड़द दाल की मौजूदा औसत कीमत 123.09 रुपये प्रति किलो है जो एक साल पहले  105.1 रुपये किलो थी. यानि उड़द दाल की औसत कीमत में 17.11 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है. 

मूंग दाल अभी 116.49 रुपये प्रति किलो में मिल रहा जो बीते साल इसी तारीख को 102.95 रुपये प्रति किलो में मिल रहा था. एक साल में मूंग दाल की कीमत में 13.15 फीसदी का उछाल आया है. चना दाल एक साल पहले 70.51 रुपये में मिल रहा था जो अब 82.93 रुपये किलो में मिल रहा है यानि एक साल में 14.77 फीसदी कीमत बढ़ चुका है. 

सरकार के कदम नाकाफी साबित

देश में दालों के खपत के लिए सरकार आयात पर निर्भर है. दालों की महंगाई पर काबू पाने के लिए सरकार ने हाल के दिनों में कई फैसले लिए हैं. सरकार ने अरहर, मसूर और उड़द दाल के ड्यूटी फ्री इंपोर्ट किए जाने की अवधि को 31 मार्च 2025 तक के लिए एक्सटेंड कर दिया है. भारत दाल ब्रांड के नाम से सरकार 60 रुपये प्रति किलो में चना दाल बेच रही है. इसके अलावा अरहर दाल, उड़द और मसूर दाल के स्टॉक लिमिट को घटा दिया गया है साथ इसकी अवधि भी बढ़ाई जा चुकी है इसके बावजूद दालों के दामों में कमी नहीं आ रही है.  

इंपोर्ट प्रभावित होने से बढ़ी कीमत!

भारत ने अफ्रीकी देश मोजैम्बिक (Mozambique) के साथ दालों के इंपोर्ट के लिए करार किया हुआ है. लेकिन मोजैम्बिक के दो ट्रेडर्स के आपसी झगड़े के चलते अरहर दाल का इंपोर्ट प्रभावित हुआ है. वहां से अरहर दाल इंपोर्ट करने में दिक्कतों का सामना करना पड़ा है तो जिसके चलते भारत में कीमतों में उछाल देखने को मिला है. 

ये भी पढ़ें 

PM Surya Ghar: 1 करोड़ घरों को 300 यूनिट पावर फ्री, प्रधानमंत्री मोदी का पीएम सूर्य घर – मुफ्त बिजली योजना की लॉन्चिंग का एलान

#Relief #High #Tur #Urad #Moong #Masoor #Dal #Prices #Pulses #Price #Inflation #Shoots #Percent #January


Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *